Followers

Sunday, March 16, 2014

होली



किसे चाहिये दुनिया का हर रंग
जीवन में बस प्यार को संग
फिर होली खुद ही हो जायेगी रंग - बिरंग
मेरे इन ख्यालों के साथ
होली मनाओ ले कर हाँथो में हाँथ ...........

होली कि आप सभी को ढेरों शुभकामनायें

रेवा

Saturday, March 15, 2014

दुरी



पता नहीं क्यों
पर इन दिनों
बड़ी शिद्दत से
महसूस हो रहा था की
तूने दुरी बना ली है मुझसे ,
फिर लगा
शायद !
प्यार पर
मसरूफ़ियत
हावी हो गया है ,
या तुझे मेरी
अब परवाह ही नहीं ,
जो भी था
मैंने अपने आप को
इस परिस्थिति के
मुताबिक
जीना सिखा लिया था ,
पर कल
जब तेरी आवाज़ सुनी
और उस आवाज़ में
वही कशिश
वही प्यार महसूस किया ,
तो ऐसा लगा जैसे
मेरी रूह को
सुकून मिल गया ,
और मन कि सारी कड़वाहट
बह गयी
आंसुओ के रास्ते।

रेवा 

Saturday, March 8, 2014

महिला दिवस




सुबह से आज महिला दिवस कि बधाईं मिल रही है ,
चाहे फेसबुक हो watsaap या gmail ,
एहसास मिश्रित हैं !
इसलिए अपनी बात कहने आ गयी ,

महिला दिवस मनाते हैं हम
पर पुरुष दिवस क्यों नहीं होता
जब हर छेत्र मे पुरुष से समानता
करते हैं ,तो फिर इस छेत्र मे असमानता ?
वैसे देखा जाये तो हर दिन हमारा
ही होता है !
बस ये सोच पर निर्भर करता है ,
अगर हम अपने को पुरुषों
से कमजोर समझेंगे तो
हम वैसा ही महसूस करेंगे ,
ये साबित भी हो चूका है की
हम पुरुषों से ज्यादा सक्ष्म  हैं ,
ज्यादतर महिलायों का शोषण
महिलाएं ही करती हैं
ये भी एक कड़वा सच है ,
हम सबको को आज
ये प्रण लेना चाहिये की
हम महिलायें एक दूसरे के
साथ देंगी हमेशा  ,
चाहे फिर रिश्ता कोई भी हो
"सबसे बड़ा रिश्ता तो यही है की
हम एक ही लिंग के हैं"
और यही रिश्ता सर्वोपरी है।


रेवा

Friday, March 7, 2014

Friend !!





Its time to write something on you my friend!

I always tried to keep distance from you
But you gave me so many reasons to be your friend ,
And I guess I had found a life time friend in you
I cant be your love
but promise to be more than that "a friend "
In every ups and downs I will be at your side
praying for you and encouraging you  ,
I know you will be the same for me............
when I say leave me alone , I mean please don't
sometimes I am harsh ,but I am soft at heart
sometimes I may be unpredictable ,but thats what makes me "me "
sometimes I may sound wiered or behave like that
but that will be situational
what ever I may be,
be always at my side
I guess we will never regret to be friends.....

Rewa


Wednesday, March 5, 2014

मेरा परिवार



जितना प्यार मुझे
अपनी पूरी ज़िन्दगी
मे नहीं मिला ,
उससे कहीं ज्यादा
मुझे इस सृजन की
दुनिया से जुड़ कर मिला ,  
यहाँ मैं किसी कि गुड़िया हूँ
किसी कि बेटी
किसी कि प्यारी छोटी बेहेन
किसी कि सखी ,
तो वहीँ इतने सारे
भाइयों कि बड़ी बेहेन भी ,

सब हर बार मुझे
प्रोत्साहित करते हैं ,
ग़लतियाँ करने पर
प्यार से समझाते हैं ,
ढ़ेर सारा प्यार
और सम्मान देते हैं ,
कभी - कभी अपने इस
परिवार कि आत्मीयता
देख आँखों मे आँसू
आ जातें हैं,
कमबख्त ये आँसू भी न
कोई मौका नहीं छोड़ते ,

इस कविता के माध्यम से
मैं अपने इस परिवार को
तहे दिल धन्यवाद देती हूँ ,
अपना प्यार और आशीर्वाद
ऐसे ही बनाये रखें ,
येही तो मेरे जीवन का आधार हैं।

आभार सहित रेवा


Sunday, March 2, 2014

क्या कहूँ



क्या कहूँ !!
इन दिनों मन कैसा हो रहा है 
चिड़ियाँ के बच्चे जब उड़ना 
सीख जातें है तो 
घोसला छोड़ कर 
चले जाते हैं न ,
आज मेरे बेटे कि 
हॉस्टल जाने कि बारी आयी 
तो मैं इतना कमज़ोर 
क्यों हो रही हूँ ?
सब के बच्चे जाते हैं ,

पर ये मन को समझाने 
के लिए अच्छी सोच है ,
पर एक माँ को समझाने 
के लिए नहीं ,
उसकी ममता कि व्याकुलता 
को शांत करने के लिए नहीं ,

शायद हम बच्चो को बड़ा 
करने में ,इतने 
मशगूल हो जातें हैं की ,
सबकुछ भूल ही जाते हैं 
ये भी कि एक दिन 
वो दूर भी जाएंगे ,
और छोड़ जाएंगे 
बस एक खालीपन। 


रेवा