Followers

Wednesday, September 22, 2010

तेरा साथ

मेरे हर पल मे तू समाया है
ये मै जानती हूँ और तू भी मानता है 
कि मेरी हर एक कविता में तेरा साया है
कविता के हर शब्द मे तुने प्यार बसाया है,

ये जज्बात , ये एहसास , 
ये चंदा और चाँदनी सा प्यार 
तुने ही सिखाया है,

फूलों और खुशबुओं की बातें , 
ख़्वाबों से भरी रातें 
तुने ही दिखाया है,

दुरी मे नजदीकी 
कभी न मिलते हुए भी इतना प्यार 
तुने ही महसूस कराया है,

हर पल , हर लम्हा तू मेरे साथ है ,
मेरे हर सही गलत फैसलें मे तेरा हाँथ है 
ये तुने ही विश्वाश दिलाया है,

अब ज़िन्दगी के अंतिम समय तक 
हमारा प्यार बना रहेगा , ये
विश्वाश मैंने पाया है ............


रेवा

5 comments:

  1. लोग खरीद क़ीमती जेवर ,
    बिन पहने ही
    तालों मै बंद कर डालते हैं,
    जाने क्यों
    खुद की खूबसूरती का
    अहसास वो नहीं कर पाते !

    आपकी कविताओं मै
    आपके जज्बातों मै वो सादगी हे
    आप जो भी लिख दें
    वो खरे जेवर की चमक पाते हैं !

    कविता मै जज्बा
    उसकी शान होता हे ,
    नगीने को जड़ जड़
    कविताओं को
    जेवर मै आप ढालती हैं !

    दादू'

    ReplyDelete
  2. जहां हर द्वार, दरबानों के पहरे
    चमकती गाड़ियां, बंगले सुनहरे
    वहां रिश्तों में,
    तनहाई बहुत है...................।

    नदी चुप है, और सागर बोलते हैं
    सभी दौलत से, सपने तौलते हैं
    हाँ, मंजिल भी,
    तमाशाई बहुत है.................।

    नकाबों से ढँके हैं सारे चेहरे
    छुपा रक्खे हैं सबने राज गहरे
    है इंसा एक,
    परछाई बहुत हैं...............।

    दिखाने के बचे सब, रिश्ते-नाते
    जुबां पर हो, भले ही मीठी बातें
    यूँ संबंधों में तो,
    खाई बहुत है....................।

    जुबां है मौन, मंजर बोलते हैं
    यहां इमाँ जरा में डोलते हैं
    सच की राहों पे तो,
    काई बहुत है..................।




    sayad mai kavi to nahi par kya karu, aapki kavita padkar hame bhi kuch likhne ka man kiya

    ReplyDelete
  3. अब ज़िन्दगी के अंतिम समय तक ,
    हमारा प्यार बना रहेगा , ये
    विश्वाश मैंने पाया है ............

    बना रहे मेरी भी कामना है.

    ReplyDelete
  4. अब ज़िन्दगी के अंतिम समय तक ,
    हमारा प्यार बना रहेगा , ये
    विश्वाश मैंने पाया है ............

    meri bhi yahi dua hai, ki aapka vishwas bana rahe..

    mera nya blog bhi dekhen...

    http://tikhatadka.blogspot.com/

    ReplyDelete
  5. बढ़िया प्रस्तुति पर हार्दिक बधाई.
    ढेर सारी शुभकामनायें.

    संजय कुमार
    हरियाणा
    http://sanjaybhaskar.blogspot.com

    ReplyDelete