Followers

Monday, June 17, 2013

"मरना है तेरे प्यार मे "

नहीं कहूँगी कभी की
मरना है तेरे प्यार मे,
मरने के लिए कौन कम्बखत
प्यार करता है ,
प्यार तो जीने का नाम है
मुझे तो हर छण
जीना है तेरे साथ ,
जीवन से
छोटे छोटे पल चुरा कर
उनमे खुशियाँ भरनी है
प्यार और एहसास भरने है ,
ऐसे जीना है की
ये उम्र भी छोटी पड़ जाये
हमारे प्यार के सामने ,
तो ऐ प्यार करने वालों
कभी न कहना "मरना है तेरे प्यार मे "

रेवा


4 comments:

  1. pyar to jeene ka naam hai.......puri kavita ka saar :)
    behtareen !!

    ReplyDelete
  2. bahut hi badhiya kabhi marna bhi nahi chahiye pyar me pyar jine ka naam hai

    ReplyDelete
  3. वाह, सुन्दर!

    ReplyDelete